मेरी हार के लिए पुलिस जिम्मेदार : मदन

कोलकाता : जेल में बंद तृणमूल कांग्रेस के नेता मदन मित्रा ने गुरुवार को कहा कि वे इस बार कमरहट्टी विधानसभा सीट से पार्टी में गुटबाजी की वजह से नहीं बल्कि पुलिस और माकपा की सांठगांठ की वजह से चुनाव हारे हैं. जब संवाददाताओं ने श्री मित्रा से पूछा कि क्या तृणमूल कांग्रेस में गुटबाजी की वजह से वह हारे तो उन्होंने जवाब दिया कि कोई गुटबाजी नहीं थी, बल्कि पुलिस और माकपा के बीच सांठगांठ की वजह से उन्हें हार का सामना करना पड़ा.   उन्होंने कहा कि उन्होंने इस बारे में ममता बनर्जी को एक रिपोर्ट भेजी है.
एसएसकेएम अस्पताल में जांच कराने आये श्री मित्रा ने संवाददाताओं से कहा कि वह प्रचार नहीं कर सके, फिर भी उन्हें इतने वोट मिले.  इसके लिए उन्होंने जनता के प्रति आभार व्यक्त किया. सारधा चिटफंड घोटाले के आरोपी श्री मित्रा को पिछले महीने सीने में दर्द और सांस लेने में कठिनाई की शिकायत पर अस्पताल में भरती कराया गया था. वह मामले में मुख्य आरोपी के तौर पर एक साल से अधिक समय से जेल में हैं और उन्होंने जेल से ही विधानसभा चुनाव लड़ा था.
श्री मित्रा पीजी के कार्डियोलॉजी विभाग में भरती हैं. राज्य के पूर्व परिवहन व खेल मंत्री श्री मित्रा  विधानसभा चुनाव में मिली करारी शिकस्त के बाद वे काफी मायूस हो गये हैं. चुनाव में हार का असर उनकी सेहत पर भी पड़ रहा है. हार के बाद उनकी सेहत में लगातार गिरावट दर्ज की गयी है. दूसरी ओर गुरुवार को उनका का  एक्सरे कराया गया. एक्सरे के बाद उन्हें कार्डियोलॉजी विभाग ले जाते समय वह संवाददातओं से बातचीत करते हुए अचानक बेहोश भी हो गये.